Tuesday, 28-05-2024
नमस्कार हमारे न्यूज पोर्टल - मे आपका स्वागत हैं ,यहाँ आपको हमेसा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे +91-8273618080 , हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें | अन्य शहरों की ख़बरें देने के लिए एवं रिपोर्टर बनने के लिए संपर्क कर सकते है मोबाइल नंबर : +91-8273618080

आईएएस रविंद्र कुमार के एक्शन के हंटर से बच पाना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है : पहले चरण के चुनाव में गैर हाजिर 42 मतदान कार्मिकों को कानूनी शिकंजे में जकड़ा जिला निर्वाचन अधिकारी ने ! डीएम ने करायी एफआईआर, हड़कंप

धर्मेन्द्र रस्तोगी

 facebook     whatsapp    

लखनऊ (धर्मेंद्र रस्तोगी/जर्नलिस्ट इन्वेस्टीगेशन न्यूज)। प्रथम चरण के लोकसभा चुनाव की संवेदनशील ड्यूटी को मजाक बनाने वाले मतदान कार्मिकों पर जिला निर्वाचन अधिकारी रविंद्र कुमार ने सख्त एक्शन लिया है। उत्तर प्रदेश के बरेली में गुरुवार को चुनाव ड्यूटी से गायब 42 कार्मिकों के खिलाफ आईएएस रविंद्र कुमार ने एफआईआर दर्ज करा दी है। जिन कार्मिकों पर एफआईआर दर्ज हुई है, उनमें बरेली कॉलेज के कनिष्ठ सहायक दिनेश कुमार भी शामिल हैं। आईएएस रविंद्र कुमार ने दो टूक कहा है कि चुनाव ड्यूटी से नदारद कार्मिकों को कतई नहीं बख्शा जायेगा। गैर हाजिर 42 कार्मिकों पर अब और कड़े एक्शन की तैयारी है। बरेली के बहेड़ी इलाके में 19 अप्रैल की वोटिंग में जिन कार्मिकों की ड्यूटी लगायी गयी, उनमें जब पोलिंग पार्टी रवाना करने को गणना हुई तो 42 कार्मिक अनुपस्थित मिले। डीएम रविंद्र कुमार का इस अनुशासनहीनता पर पारा चढ़ गया। उन्होंने तत्काल एफआईआर दर्ज कर कानूनी शिकंजे में जकड़ने के निर्देश दे दिए। दरअसल पूर्व में कई ट्रेनिंग से गैर हाजिर कार्मिकों को आखिरी मौका दिया गया था, जब कार्मिक ट्रेनिंग में हिस्सा ले सकें, लेकिन कुछ कार्मिक तो ट्रेनिंग से लेकर अब मतदान तिथि की बेला तक अपनी मनमानी पर उतारू हैं। ऐसे में डीएम की नजर भी ऐसे लापरवाह कार्मिकों पर काफी टेढ़ी हो चली है। ऐसा लगता है कि लापरवाह कार्मिकों के लिए अब जिला निर्वाचन अधिकारी की कार्रवाई के चाबुक से बच पाना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन सा हो गया है। (जर्नलिस्ट इन्वेस्टीगेशन न्यूज)।

whatsapp whatsapp